विदेश

ब्रिटेन : कोरोना के मामलों में हुई वृद्धि, हीथ्रो हवाई अड्डे पर भारत से अतिरिक्त उड़ानों को नहीं मिलेगी अनुमति

भारत में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार हो रही वृद्धि को देखते हुए ब्रिटेन ने देश को ‘रेड-लिस्ट’ में शामिल कर दिया। साथ ही ब्रिटेन के हीथ्रो हवाई अड्डे ने भारत से अतिरिक्त उड़ानों को अनुमति देने से भी मना कर दिया। ब्रिटिश स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने सोमवार को कहा कि ब्रिटेन में भारतीय वैरिएंट के 100 से अधिक मामलों का पता लगाने के बाद यह फैसला लिया गया है।

ब्रिटिश स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ‘हमने भारत को रेड लिस्ट में शामिल करने के लिए कठिन लेकिन महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। इसका मतलब यह है कि कोई भी जो पिछले 10 दिनों से भारत में रह रहा है, वह अगर यूके या आयरिश या ब्रिटिश नागरिक नहीं है तो वह  ब्रिटेन नहीं आ सकता है।’
भारत-ब्रिटेन के बीच 30 उड़ानों का परिचालन
हीथ्रो हवाई अड्डे के भारत से अतिरिक्त उड़ानों की अनुमति देने से इनकार करने से पहले एक समाचार वेबसाइट की खबर में कहा गया था कि हवाई अड्डे ने यह कहते हुए कि एयरलाइनों के अनुरोधों को खारिज कर दिया क्योंकि पासपोर्ट की जांच के दौरान लंबी कतारें लगने का जोखिम है। बता दें, चार एयरलाइनों ने भारत से अतिरिक्त आठ उड़ानों के परिचालन का अनुरोध किया था क्योंकि यात्री नये नियमों के प्रभावी होने से पहले वापस आना-जाना चाहते हैं। वर्तमान में भारत और ब्रिटेन के बीच एक हफ्ते में 30 उड़ानों का परिचालन किया जा रहा है।

हवाई अड्डे की तरफ से कहा गया कि यह सूची शुक्रवार को स्थानीय समयानुसार सुबह चार बजे से प्रभावी होगी। हवाई अड्डा प्रशासन ने यह भी कहा कि वह ज्यादा यात्रियों को यात्रा की अनुमति देकर सीमा पर मौजूदा कई तरह के दबाव को और नहीं बढ़ाना चाहता है। ब्रिटेन और आयरलैंड के पासपोर्ट धारकों और ब्रिटेन में आवास के अधिकार वाले लोगों को अनुमति होगी लेकिन उन्हें 10 दिन होटल में क्वारंटीन रहना होगा।
ब्रिटेन में रहने वाले भारतीय मूल के लोगों में तनाव
वहीं, ब्रिटेन के इस कदम से सैकड़ों भारतीय छात्रों और ब्रिटेन में रहने वाले भारतीय मूल के परिवारों के बीच तनाव का माहौल बन गया है। ब्रिटेन में भारतीय छात्रों के प्रतिनिधि समूह ‘एनआईएएयू-यूके’ की अध्यक्ष सनम अरोड़ा ने कहा कि नियमों और उनके अर्थ को लेकर भारतीय समुदाय के बीच असमंजस की स्थिति है। क्वारंटीन के दौरान होने वाले खर्च से लेकर छात्रों द्वारा विभिन्न मुद्दों को लेकर चिंताएं जताई जा रही हैं।

उन्होंने कहा, ‘छात्रों को अंतिम सेमेस्टर और मई में शुरू होने जा रहे नए सत्र के लिए आना था। हमने गृह मंत्रालय को इन चिंताओं और सवालों को लेकर स्थिति स्पष्ट करने के लिए पत्र लिखा है।’ इधर, बिगड़ते हालात के बीच ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने 26 अप्रैल को होने वाली भारत की अपनी यात्रा भी रद्द कर दी।

बता दें बुधवार को भारत में 24 घंटे में 3 लाख 15 हजार 478 नए संक्रमित मिले। कोरोना महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक एक दिन में संक्रमितों की यह संख्या पूरी दुनिया में सर्वोच्च है। इसके पहले विश्व में एक दिन में सर्वाधिक नए संक्रमित मिलने का रिकॉर्ड अमेरिका के पास था। अमेरिका में आठ जनवरी, 2021 को 3 लाख 7 हजार 570 नए संक्रमित मिले थे, लेकिन अब इस मामले में भारत सबसे आगे निकल गया है।

Related Articles

Select Language »