उत्तर प्रदेशराजनीति

समाजवादी पार्टी के प्रदेश सचिव दीपक रंजन का मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह को करारा जवाब


By Bureau

लखनऊ: पिछले दिनों समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के कायस्थ समाज पर दिए गए सकारात्मक बयान को लेकर राजनीति गरमाने लगी है । अखिलेश यादव ने कहा था कि “कायस्थ समाज के लोग भाजपा की साजिश से सावधान रहें” । समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के ताजा बयान पर उत्तर प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी में कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा था कि “अखिलेश यादव कायस्थ समाज को बहकाना छोड़ दें और क्या उन्होंने अपने कैबिनेट में किसी कायस्थ को स्थान दिया था”? । समाजवादी पार्टी के प्रदेश सचिव और कायस्थ समाज के बड़े नेता दीपक रंजन ने इस मुद्दे पर सिद्धार्थ नाथ सिंह को न सिर्फ सियासी तौर से घेरा है बल्कि उन्हें करारा जवाब भी दिया है । कायस्थ समाज के नेता दीपक रंजन ने कहा है कि “अगर भारतीय जनता पार्टी को सिद्धार्थ नाथ सिंह से इतना ही प्यार था तो फिर उनको डिमोट क्यों कर दिया गया ? पहले सिद्धार्थ नाथ सिंह को स्वास्थ्य विभाग जैसा मजबूत विभाग दिया गया था और भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने बीच ही में उनको डिमोट करते हुए महत्वहीन विभाग का पद पकड़ा दिया । क्या सिद्धार्थ नाथ सिंह को यह नहीं पता कि जे पी एन आई सी सेंटर किसने और किसके नाम पर बनवाया है ? सिद्धार्थ नाथ सिंह जिस सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं उन्हीं की सरकार JPNIC सेंटर को बेचना चाह रही थी और समाजवादी पार्टी राष्ट्रीय अध्यक्ष के आह्वान पर सपा ने आंदोलन करके जे पी एन आई सी सेंटर को बचाने का काम किया है । समाजवादी पार्टी के प्रदेश सचिव दीपक रंजन ने अपनी बातचीत को यहीं खत्म नहीं किया बल्कि भारतीय जनता पार्टी पर गंभीर आरोप लगाते हुए सिद्धार्थनाथ सिंह से सवाल किया है कि “क्या सिद्धार्थ नाथ सिंह बता सकते हैं कि संगठन में कितने पदों पर कायस्थ समाज के लोगों को बिठाया गया है ? क्या वह बता सकते हैं कि लोकसभा चुनाव में कितने कायस्थों को भारतीय जनता पार्टी ने टिकट दिया है ? क्या महापौर के चुनाव में कायस्थ को भारतीय जनता पार्टी में टिकट दिया ? यही नहीं हाल में संपन्न हुए MLC के चुनाव में कितने कायस्थ समाज के लोगों को टिकट दिया गया ? राज्यसभा में भी कितने को भारतीय जनता पार्टी ने राज्यसभा भेजा है ? आखिर सिद्धार्थ नाथ सिंह ने तब भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ कुछ क्यों नहीं बोला ?

समाजवादी पार्टी के प्रदेश सचिव दीपक रंजन आगे कहते हैं कि समाजवादी पार्टी ने कायस्थ समाज को काफी इज्जत दी है “2019 के लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने ना सिर्फ कायस्थ समाज से जुड़े लोगों को टिकट दिया बल्कि स्नातक खंड चुनाव में भी समाजवादी पार्टी ने टिकट दिया और वाराणसी जैसी महत्वपूर्ण सीट से जहां प्रधानमंत्री लोकसभा के सदस्य हैं उस सीट को जीतकर के भारतीय जनता पार्टी के मुंह पर कायस्थ समाज के एक युवा नेता ने करारा तमाचा मारा है । यही नहीं समाजवादी पार्टी ने महापौर के चुनाव में भी टिकट दिया था । दीपक रंजन यही नहीं रुकते हैं बल्कि कहते हैं कि “क्या सिद्धार्थ नाथ सिंह ये बता सकते हैं कि बिहार, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ समेत जितने राज्यों में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है वहां की कैबिनेट में कायस्थ समाज के लोगों को कितना सम्मान मिला है ? दीपक रंजन ने कहा कि “कायस्थ समाज सम्मान का भूखा है और समाजवादी पार्टी कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव कायस्थ समाज की बेहतरी के लिए लगातार खड़े हुए हैं” ।

Related Articles

Select Language »