उत्तर प्रदेशटॉप न्यूज़देशराज्य

लखनऊ केजीएमयू में इलाज कराने के लिए अब मरीजों को ज्यादा ढीली करनी होगी जेब

लखनऊ केजीएमयू में इलाज कराने के लिए अब मरीजों को ज्यादा जेब ढीली करनी होगी। ओपीडी में परामर्श के लिए पंजीकरण शुल्क दोगुना करने की तैयारी कर ली गई है। इसके साथ ही अन्य इलाज की फीस भी 10 प्रतिशत बढ़ाई जाएगी। केजीएमयू के हॉस्पिटल बोर्ड में पास ये प्रस्ताव अब कार्य परिषद में अंतिम मंजूरी के लिए रखे जाएंगे।


केजीएमयू की ओपीडी में इस समय पर्चे का शुल्क एक रुपया है, लेकिन इससे पहले मरीज से पंजीकरण के नाम पर 50 रुपये लिए जाते हैं। अब यह शुल्क 100 रुपये करने की तैयारी है। यह पंजीकरण छह माह के लिए मान्य होगा। इसके बाद ओपीडी में पंजीकरण के लिए दोबारा फीस देनी होगी। हॉस्पिटल बोर्ड में यह प्रस्ताव रखते वक्त तर्क दिया गया कि विवि की आय बढ़ाने के लिए ऐसा करना बेहद जरूरी है, जिसे सदस्यों ने मान लिया। अब पंजीकरण के साथ इलाज की अन्य मदों में भी बढ़ोतरी की जानी हैं।

Related Articles

Select Language »