टॉप न्यूज़विदेश

दुनियाभर में ओमिक्रॉन को लेकर चिंताओं के बीच फ्रांस में IHU वैरिएंट ने मचा दिया हड़कंप

दुनियाभर में ओमिक्रॉन को लेकर चिंताओं के बीच फ्रांस में IHU वैरिएंट ने हड़कंप मचा दिया है. इस नए वैरिएंट को लेकर शोध जारी है. इस बीच इंपीरियल कॉलेज ऑफ लंदन के एक वैज्ञानिक का कहना है कि IHU वैरिएंट चिंताजनक नहीं है और ये ओमिक्रॉन से पहले ही तलाश लिया गया था. ब्रिटिश वैज्ञानिक डॉ. थॉमस पिकॉक ने कहा है कि IHU वैरिएंट में व्यापक रूप से फैल सकने की क्षमता थी लेकिन ऐसा हुआ नहीं.

दरअसल दिसंबर की शुरुआत में फ्रांस में मार्सिले के पास नए IHU वेरिएंट के कम से कम 12 मामले सामने आए. माना जा रहा है कि ये कैमरून से लौटे शख्स से जुड़े हैं. क्लस्टर की खोज के बाद शोध शुरू हुआ. medRxiv पर पोस्ट किए गए एक पेपर के अनुसार, नेक्स्ट जनरेशन के सीक्वेंसिंग द्वारा ऑक्सफ़ोर्ड नैनोपोर टेक्नोलॉजीज के साथ ग्रिडियन इंस्ट्रूमेंट्स पर जीनोम पाए गए. इसमें आगे कहा गया है कि म्यूटेशन के कारण 14 अमीनो एसिड सब्स्टीट्यूशन और 9 अमीनो एसिड डिलीशन हुए – जो स्पाइक प्रोटीन में मौजूद हैं. ये वैरिएंट अभी किसी दूसरे देश में नहीं दिखा है.

Related Articles

Select Language »