कारोबार

अलर्ट: एटीएम मशीन से भी लगाया जा रहा लोगों को चूना, यहां जाने पूरा मामला?

कोरोना काल में बैंक फ्रॉड के मामले तेजी से बढ़े हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के कड़े नियमों के बावजूद बैंकों में धोखाधड़ी हो ही जाती है। जालसाज आम लोगों को लूटने का कोई न कोई तरीका ढूंढ लेते हैं।

सुरक्षित बैंकिंग और लोगों को ज्यादा सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए देश में एटीएम सर्विस शुरू हुई थी। लेकिन एटीएम मशीन से भी लोगों को चूना लगाया जा रहा है। बढ़ते फ्रॉड को ध्यान में रखते हुए हम आपको बताने जा रहे हैं कि कैसे एटीएम के जरिए धोखाधड़ी होती है, ताकि आप अपना पैसा सुरक्षित रख सकें।

मशीन के आस-पास हो सकता है सीक्रेट कैमरा
आपका एटीएम पिन जानने के लिए मशीन के आस-पास सीक्रेट कैमरे लगे होते हैं जो सब रिकॉर्ड कर लेते हैं। ऐसे में आपको सावधानी से काम लेना चाहिए। कार्ड का इस्तेमाल करने से पहले आप ये सुनिश्चित कर लें कि मशीन के ऊपर कोई दूसरी चीज अलग से तो नहीं लगी है। अगर आपको जरा भी संदेह होता है तो वहां मौजूद कर्मचारी को आगाह कर दें।

आस-पास खड़े व्यक्ति से रहें सावधान
कईं बार ऐसा भी होता है कि जब आप एटीएम से पैसा निकाल रहे होते हैं, तब आपके आस-पास कोई खड़ा होता है। जब भी आपके साथ कोई खड़ा हो, तब भी आपको सावधान रहना चाहिए क्योंकि हो सकता है कि आपके पीछे खड़ा शख्स ही आपका एटीएम पिन देखकर आपको चूना लगा दे।

कार्ड क्लोनिंग के जरिए ऐसे होता है फ्रॉड
जालसाज कार्ड क्लोनिंग के जरिए आपके एटीएम कार्ड तक अपनी पहुंच बना लेते हैं। इसके बाद आपको ठगना उनके लिए कोई बड़ी बात नहीं होती। अपने एटीएम कार्ड का प्रयोग करते वक्त आपको सावधानी बरतने की जरूरत है। जालसाज एटीएम मशीन पर एक स्कीमर नाम की मशीन लगाते हैं। ये मशीन मार्केट में मात्र सात हजार रुपये में आसानी से मिल जाती है। इस मशीन के जरिए कार्ड स्वाइप होने पर उसकी जानकारी को कॉपी कर लिया जाता है। इसमें आपके बैंक खाते से जुड़ी सभी जानकारी शामिल होती है। इसके बाद जालसाज इस जानकारी को किसी ब्लैंक कार्ड में ट्रांसफर कर देते हैं। इस तरह जालसाज एक अन्य कार्ड बनाते हैं, जिसपर आपके कार्ड की पूरी जानकारी होती है और फिर इसी से पैसे निकाले जाते हैं। 

सावधानी से करें कार्ड स्वाइप
इसके अतिरिक्त कोई सामान खरीदते वक्त, किसी मॉल में, या किसी अन्य जगह पर अगर आप कार्ड से पेमेंट करते हैं, तो भी फ्रॉड की संभावना बढ़ जाती है। ऐसी स्थिति में आपको सावधानी बरतने की जरूरत है। आप हमेशा अपने कार्ड को अपने सामने ही स्वाइप करवाएं और उसमें पासवर्ड भी खुद ही डालें। 

Related Articles

Select Language »