मनोरंजन

डेढ़ दशक बाद बड़े परदे पर फिर नज़र आएगी ‘अपरिचित’, ये एक्टर निभाएंगे तीन अनोखे किरदार

15 साल पहले हिंदी में ‘अपरिचित’ नाम से डब होकर रिलीज हुई तमिल फिल्म ‘अन्नियन’ (Anniyan) का अब हिंदी में रीमेक होने जा रहा है। दक्षिण के मशहूर निर्देशक शंकर की लिखी और निर्देशित फिल्म ‘अन्नियन’ के इस रीमेक में रणवीर सिंह (Ranveer Singh) वही तीन अनोखे किरदार निभाने जा रहे हैं, जो मूल फिल्म में अभिनेता विक्रम ने निभाए थे। फिल्म के निर्माता होंगे जयंती लाल गडा जिनकी मेगा बजट फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ की रिलीज का इंतजार पिछले साल से ही हो रहा है।

बुधवार को अपनी नई फिल्म का एलान करते हुए निर्माता जयंती लाल गडा काफी उत्साहित दिखे। वह कहते हैं, ‘शंकर और रणवीर सिंह, दोनों का सिनेमाई करिश्मा अद्भुत रहा है। दोनों को एक साथ एक फिल्म के लिए आना इस साल का सबसे बड़ा सिनेमाई मौका है। हमारे लिए ये एक ऐसी उपलब्धि की तरह है जो बिरले ही हासिल होती है। इन दोनों के साथ फिल्म बनाने और उसे पूरी दुनिया में वितरित करने को लेकर हम काफी आशान्वित हैं और हमें पूरी उम्मीद है कि ये फिल्म भारतीय सिनेमा का एक नया सफल अध्याय लिखने में सफल रहेगी।’

संगीत निर्देशक ए आर रहमान से अलग होने के बाद लेखक, निर्देशक शंकर की फिल्म ‘अन्नियन’ पहली ऐसी फिल्म रही जिसके लिए उन्होंने संगीतकार हैरिस जयराज के साथ टीम बनाई थी। फिल्म में विक्रम ने एक ऐसे युवक का रोल किया था जो समाज में फैल रही अव्यस्थाओं से परेशान रहता है। इस साइकोलॉजिकल एक्शन थ्रिलर में विक्रम ने तीन अलग अलग किरदार किए थे। अंबी नामक किरदार में वह एक वकील है जो स्प्लिट पर्सेनिलिटी ऑर्डर से प्रभावित होने के बाद अपनी दो पहचानें और विकसित कर लेता है। एक में वह फैशन मॉडल रेमो होता है और एक अलग पहचान उसकी ‘अन्नियन’ की बनती है जिसमें वह रात के समय अन्याय के खिलाफ इंसाफ करने निकलता है।

अपने अलग अलग प्रयोगात्मक किरदारों के चलते हिंदी सिनेमा के नंबर वन हीरो बन चुके रणवीर सिंह कहते हैं, ‘निर्देशक शंकर के साथ काम करने का मौका मिलना किसी आशीर्वाद  से कम नहीं है। उनकी फिल्में हमेशा एक नई हलचल लेकर आती हैं। कहानियों को परदे पर पेश करने का उनका दृष्टिकोण शुरू से बहुत विशाल रहा है। उनके साथ काम करना मेरे लिए हमेशा एक सपना रहा है और अब जब मुझे ये मौका मिला है तो मुझे पूरा भरोसा है कि हम दोनों मिलकर कुछ जादुई करने में कामयाब रहेंगे।’

ओरीजनल फिल्म के हीरो विक्रम के बारे में जिक्र चलने पर रणवीर कहते हैं, ‘विक्रम सर ने ओरीजनल फिल्म में जो किया, उसकी बराबरी करने की तो मैं सोच भी नहीं सकता। वह हमारे देश की सर्वोत्तम प्रतिभाओं में से हैं। मैं सिर्फ यही उम्मीद कर सकता हूं कि इस फिल्म को लेकर मेरी सोच और मेरी कोशिश दर्शकों को वैसी ही पसंद आएगी जैसी मूल फिल्म में विक्रम के किरदार को लोगों ने पसंद किया था।’

10 जून 2005 को तमिल में रिलीज हुई ‘अन्नियन’ को इसके साथ ही दक्षिण भारत की बाकी चार भाषाओं में भी डब करके रिलीज किया गया था। अगले साल 2006 में ये फिल्म हिंदी में डब होकर ‘अपरिचित’ नाम से रिलीज हुई थी। फिल्म दक्षिण भारत में तो सुपरहिट रही लेकिन हिंदी पट्टी में इसके डब संस्करण को अपेक्षित सफलता नहीं मिल सकी थी। फिल्म ने तब 57 करोड़ रुपये का कारोबार किया था। फिल्म को दक्षिण के आठ फिल्मफेयर पुरस्कारों के अलावा स्पेशल इफेक्ट्स का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार भी हासिल हुआ था।

अपनी फिल्म के हिंदी संस्करण के बनाए जाने की घोषणा के बारे में निर्देशक शंकर कहते हैं, ‘फिल्म ‘अन्नियन’ को हिंदी में बनाने के लिए एक हरफनमौला करिश्माई शख्सीयत की जरूरत थी। मुझे इस किरदार के लिए जरूरी सारे गुण अभिनेता रणवीर सिंह में दिखाई दिए। मैं एक बार फिर से ‘अन्नियन’ को पूरे देश के दर्शकों के लिए बनाने को लेकर रोमांचित हूं। फिल्म की सामग्री में अंतर्देशीय दर्शकों की पसंद के हिसाब से बदलाव को इसके निर्माता जयंतीलाल गडा ने मंजूरी दे दी है और उनका साथ हमें इस बारे में एक नई ऊंचाई पर ले जाने में मदद जरूर करेगा।’

Related Articles

Select Language »