Uncategorized

हरियाणा : सिरसा में पुलिस और किसानों में हुई झड़प, धक्कामुक्की में नीचे गिरे किसान, एक किसान की उतरी पगड़ी

हरियाणा में किसानों का भाजपा नेताओं के खिलाफ प्रदर्शन जारी है। बुधवार को सिरसा में नगर परिषद के चेयरपर्सन पद का चुनाव था। सूचना मिलते ही किसानों ने नगर परिषद का घेराव कर लिया।

किसान भाजपा सांसद सुनीता दुग्गल और विधायक गोपाल कांडा को काले झंडे दिखाने के लिए पहुंचे। इस दौरान किसानों और पुलिस कर्मचारियों में बैरिकेड्स को लेकर धक्का मुक्की हो गई। धक्कामुक्की में कुछ किसान नीचे गिर गए और एक सिख किसान की पगड़ी उतर गई।

वहीं रीना सेठी सिरसा नगर परिषद की चेयरपर्सन बन गईं। रीना सेठी को 17 वोट मिले वहीं बीजेपी की सुमन बामनिया को 15 वोट मिले। चुनाव के बाद गोपाल कांडा और सुनीता दुग्गल एसडीएम की कार में बैठकर निकल गए। इस दौरान किसान गाड़ियों के आगे लेट गए थे। इस दौरान फिर पुलिस और किसानों में झड़प हो गई।

इससे पहले भाजपा के स्थापना दिवस पर मंगलवार को शाहाबाद में कार्यकर्ता के घर पहुंचे कुरुक्षेत्र के सांसद नायब सिंह सैनी की गाड़ी का किसानों ने घेराव कर शीशा तोड़ दिया। इतना ही नहीं किसान गाड़ी को रोकने के लिए बोनट पर लेट गए लेकिन ड्राइवर धीमी गति से कार को चलाता रहा। करीब 50 मीटर तक गाड़ी उन्हें बोनट पर लेकर चलती रही। इसी बीच हाथ में काले झंडे लिए किसानों ने गाड़ी का पिछला शीशा तोड़ दिया। 

मौके पर किसानों ने सरकार विरोधी नारे लगाते हुए जोरदार प्रदर्शन भी किया। उधर, भाजपा जिला अध्यक्ष ने बैठक बुलाकर इस घटनाक्रम की निंदा की। कुरुक्षेत्र सांसद नायब सिंह सैनी मंगलवार सुबह करीब 11 बजे शाहाबाद में भाजपा कार्यकर्ता इंद्रजीत अरोड़ा के निवास पर अपनी इनोवा कार में सवार होकर जलपान करने पहुंचे थे, जिसकी भनक भाकियू को लग गई और 11:18 मिनट पर भारी संख्या में किसान घर के बाहर एकत्रित हो गए। 

Related Articles

Select Language »